scorecardresearch
advertisement

खाद-बीज News

कृषि मंत्री धनंजय मुंडे

बीज-खाद की किल्लत पर महाराष्ट्र के कृषि मंत्री का बड़ा बयान, मुनाफाखोरी पर होगी सख्त कार्रवाई

Jun 15, 2024

Seeds and Fertilizers Crisis: कृषि मंत्री धनंजय मुंडे ने कहा कि राज्य में फर्जी बीज और ऊंचे दामों पर खाद-बीज की बिक्री के खिलाफ 5 कृषि कानूनों के प्रस्ताव के बाद कुछ तत्वों द्वारा कृषि इनपुट की कृत्रिम कमी का नाटक किया जा रहा है. यह सब जान बूझकर किया जा रहा है. सरकार ने इसे गंभीरता से लिया है. ऐसी हरकत बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

अब उधमपुर के किसान कर रहे हाइब्रिड प्‍याज की खेती

जम्मू-कश्मीर में कमाई का जरिया बना हाइब्रिड प्याज का बीज, कई किसानों ने शुरू की खेती

Jun 14, 2024

जम्मू-कश्मीर जिसे आप सब अभी तक केसर, अखरोट और सेब की खेती के लिए जानते थे, अब प्‍याज की खेती में भी आगे बढ़ने लगा है.उधमपुर के किसान सोम राज ने आलू और लहसुन जैसी पारंपरिक फसलों से हटकर  सरकार की तरफ से मुहैया कराए गए हाइब्रिड प्याज के बीज लगाकर एक कदम आगे बढ़ाया है. सोम राज की सफलता की खबर जल्दी ही पड़ोसी गांवों में फैल गई, जिससे हाइब्रिड बीजों के प्रति जिज्ञासा और रुचि पैदा हुई.

इस राज्य में बढ़ रहा है कीटनाशकों का इस्तेमाल. (सांकेतिक फोटो)

कीटनाशकों के छिड़काव में तीसरे स्थान पर तेलंगाना, जानिए पहले और दूसरे स्थान पर कौन है?

Jun 13, 2024

रायथु स्वराज्य वेदिका के रवि कन्नेगंती ने कहा कि उर्वरकों के अत्यधिक उपयोग से मिट्टी को अधिक नुकसान होता है. यह कठोर हो जाती है और इसकी जल संचय क्षमता कम हो जाती है. इन उर्वरकों में जिंक और मैग्नीशियम जैसे सूक्ष्म पोषक तत्वों की कमी होती है, जिनकी मानव शरीर को आवश्यकता होती है.

धान की खेती में रोग का खतरा

अब धान में नहीं लगेगा बकेन रोग, वैज्ञानिकों ने खोज निकाला इसका समाधान

Jun 12, 2024

एजेनोर ने बकेन रोग को नियंत्रित करने में असाधारण प्रभावकारिता प्रदर्शित की है, जिसे फुट रोट के रूप में भी जाना जाता है, यह एक हानिकारक बीज जनित बीमारी है जो सालाना 3% से 95% तक उपज में कमी का कारण बन सकती है. एजेनोर को अपनी कृषि पद्धतियों में शामिल करके, किसान अपनी उपज में उल्लेखनीय वृद्धि कर सकते हैं.

किसानों की हर समस्या का हल बस एक फोन पर

बस एक फोन कॉल से दूर होगी खेती-किसानी की समस्या, जल्दी नोट करें ये टोल फ्री नंबर

Jun 12, 2024

खाद और बीज जैसी समस्याओं के समाधान के ल‍िए कृषि विभाग के टोल फ्री (मौखिक शिकायत के लिए) नंबर 18002334000 पर भी संपर्क किया जा सकता है. संबंधित समस्या को व्हाट्सएप पर शिकायत दर्ज करते समय नाम, पता, संपर्क नंबर और समस्या का कारण संक्षिप्त विवरण सह‍ित देना होगा. श‍िकायतों पर व‍िभाग के अध‍िकारी संज्ञान लेंगे. 

किसानों को ऊंचे दामों पर मिल रहा है बीज

अमरावती में किसानों को ऊंचे दामों पर बीज बेचना बंद करें, वरना करेंगे आंदोलन...UBT सेना ने दी चेतावनी

Jun 12, 2024

महाराष्ट्र के अमरावती में UBT (उद्धव बाला साहब ठाकरे) शिवसेना के युवा सेना ने आंदोलन करते हुए कहा कि किसानों के लिए बुवाई का मौसम आ गया है. लेकिन, किसानों को सही दाम में और समय पर कपास के बीज नहीं मिल रहे हैं, जिससे किसानों को परेशानी हो रही है.

अधिक दामों में किसान कपास का बीज खरीदने पर हुए मजबूर

महाराष्ट्र में कपास के बीजों का पड़ा अकाल, क‍िसानों से ज्यादा दाम वसूल रहे हैं दुकानदार

Jun 12, 2024

कपास के बीज के दाम ज्यादा लेने और इसकी हो रही कालाबाजारी को रोकने के ल‍िए जिला स्तरीय विशेष टीम और कृषि विभाग की 16 टीमें तैनात की गई हैं. नांदेड़ के कलेक्टर अभिजीत राऊत ने निर्देश दिए हैं कि बाजार में बीज, खाद, कीटनाशकों का गैर कानूनी स्टॉक किया गया या अनाधिकृत रूप से बिक्री करते पाया गया तो कार्रवाई की जाएगी. 

तरल कॉन्सोर्टिया खाद

सिंगल खाद जो फसलों में नाइट्रोजन, फास्फोरस और पोटैशियम की दूर करेगी कमी, कीमत आपको चौंका देगी

Jun 12, 2024

कृषि विशेषज्ञों के अनुसार तरल कॉन्सोर्टिया खाद में नाइट्रोजन, फास्फोरस और पोटैशियम अधिक मात्रा में होता है. इसमें मौजूद पोषक तत्वों के कारण ये तिलहन और दलहन फसलों के लिए अन्य खाद की तुलना में अधिक लाभकारी होता है.

सोयाबीन की खेती (सांकेतिक तस्वीर)

सोयाबीन की वैरायटी JS 2172 को क्यों कहते हैं बेस्ट, क्या है इसकी खासियत?

Jun 11, 2024

सोयाबीन की इस नई किस्म को जवाहर लाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय जबलपुर के कृषि वैज्ञानिकों ने काफी शोध के बाद विकसित किया है. यह बीज बदलते मौसम और बढ़ते तापमान में पानी की कमी में भी बेहतर प्रदर्शन कर सकती है. सोयाबीन की यह किस्म  मध्य प्रदेश, बुंदेलखण्ड, राजस्थान, गुजरात व महाराष्ट्र के विदर्भ क्षेत्र हेतु अनुशंसित की गई है.

 मूंगफली की खेती में नाइट्रोजन का इस्तेमाल

मूंगफली में अधिक नाइट्रोजन नहीं देने की क्यों दी जाती है सलाह? फसल पर क्या होता है असर?

Jun 11, 2024

मूंगफली की खेती के लिए अच्छी जल निकासी वाली भुरभुरी दोमट और बलुई दोमट मिट्टी सबसे अच्छी होती है. दो बार मिट्टी पलटने वाले हल और बाद में कल्टीवेटर से जुताई करने के बाद खेत को समतल कर देना चाहिए. फसल को दीमक और विभिन्न प्रकार के कीटों से बचाने के लिए अंतिम जुताई के समय क्विनलफॉस 1.5% 25 किलोग्राम प्रति हेक्टेयर मिट्टी में मिला देना चाहिए.

धान के पौधों की बढ़ोत्तरी के लिए जिंक प्रमुख पोषक तत्व है.

धान में खैरा रोग से छुटकारा दिलाएगी ये दवा, पत्तियों पर पीले-काले धब्बे खत्म होंगे, किसानों को मिलेगी बंपर उपज 

Jun 10, 2024

धान किसानों के लिए खैरा रोग बड़ी समस्या बनता है. इससे पौधों का विकास रुक जाता है और पौधा बौना रह जाता है. खैरा रोग से बचाने के लिए इफको दवा लाई है, जो किसानों की इस समस्या को दूर कर बंपर उत्पादन दे सकती है.

अरहर की खेती

अरहर के लिए खाद और कीटनाशक का सही इस्तेमाल जान लें, इन तरीकों से बंपर पैदावार पा सकेंगे आप

Jun 10, 2024

अरहर की पैदावार बढ़ाने के लिए कुछ विशेष बातों का ध्यान देना पड़ता है. अरहर की रोपाई करने के लिए सबसे पहले खेत की तैयारी पर विशेष ध्यान देना पड़ता है. बारिश शुरू होने के साथ ही खेत को दो से तीन बार अच्छे से जुताई कर लेना चाहिए. पहली जुताई मिट्टी पलटने वाले हल से करनी चाहिए.

कीटों के नियंत्रण के लिए खेत की जुताई, मेंड़ों की छंटाई और घास की सफाई नियमित होनी चाहिए.

खरीफ धान की बंपर उपज के लिए इन 5 कीटों और 7 रोगों से फसल को बचाना जरूरी, किसान जान लें ये आसान तरीका 

Jun 09, 2024

खरीफ सीजन में धान की फसल को कई तरह के कीटों और रोगों से बचाना जरूरी होता है. कीटों और फसल के रोगों की रोकथाम के लिए अभी से परेशान हैं. लेकिन, यहां कुछ जरूरी बिंदु बताए जा रहे हैं, जिन पर अमल करके किसान धान की बंपर पैदावार हासिल कर सकते हैं और कीटों-रोगों से छुटकारा हासिल कर सकते हैं.

हेल्पलाइन नंबर

किसानों से बीज-खाद के मनमाने दाम नहीं ले पाएंगे विक्रेता, कृषि मंत्री ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर, तुरंत दर्ज होगी शिकायत

Jun 09, 2024

कृषि मंत्री धनंजय मुंडे ने इस अभिनव पहल को पिछले साल भी लागू किया था. इससे हजारों शिकायतों का समाधान करने में मदद मिली थी. इसलिए, धनंजय मुंडे ने इस वर्ष इस गतिविधि को लागू करने का निर्णय लिया है.

सहजन की खेती

सहजन की इस उन्नत किस्म की खेती से खूब मुनाफा कमा सकते हैं किसान, घर बैठे मंगवाएं बीज, ये है तरीका

Jun 09, 2024

राष्ट्रीय बीज निगम (National Seeds Corporation)  किसानों की सुविधा के लिए ऑनलाइन सहजन की उन्नत किस्म PKM-1 का बीज बेच रहा है. इस बीज को आप ओएनडीसी के ऑनलाइन स्टोर से खरीद सकते हैं.

बड़े काम की होती है मछली से बनी खाद

क्‍या आप जानते हैं मछली से बन सकती है खाद! अगर नहीं तो जानिए क्‍या है फिश फर्टिलाइजर और इसके फायदे

Jun 08, 2024

फिश फर्टिलाइजर पूरी मछली,  उसकी हड्डियों और त्वचा से तैयार होता है. ऐसी मछलियां जिनका कोई प्रयोग नहीं हो पाता है, उन्‍हें बर्बाद होने की जगह आप बगीचे के लिए पोषक तत्वों में इन्‍हें बदलकर प्रयोग कर सकते हैं. इस उर्वरक में कई तरह के पोषक तत्‍व होते हैं जो पौधों की जड़ों को फायदा पहुंचाते हैं. मछली से बनी खाद न सिर्फ आपके पौधों को बढ़ाती है बल्कि यह आपकी मिट्टी को भी मदद करती है.

गेंदे के पूसा नारंगी किस्म

गेंदे के पूसा नारंगी किस्म की क्या है खासियत, खेती के लिए सस्ते में कहां से खरीदें बीज?

Jun 08, 2024

राष्ट्रीय बीज निगम (National Seeds Corporation) किसानों की सुविधा के लिए ऑनलाइन गेंदे की उन्नत किस्म 'पूसा नारंगी'  का बीज बेच रहा है. इस बीज को आप ओएनडीसी के ऑनलाइन स्टोर से खरीद सकते हैं.

उत्तर प्रदेश के फतेहपुर निवासी किसान ने उन्नत प्रजाति की अरहर फसल की बंपर उपज हासिल की है.

किसान ने लाइन स्विंग विधि से बोई अरहर की उन्नत किस्म, बंपर उपज देखकर दूसरे किसान और ग्रामीण मांगने लगे बीज

Jun 07, 2024

भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान देशभर में किसानों की उन्नति के लिए उन्नत प्रजाति के बीज फार्मर फर्स्ट प्रोग्राम के तहत उपलब्ध करा रहा है और बुवाई समेत पूरी विधि की ट्रेनिंग भी दे रहा है. उत्तर प्रदेश के फतेहपुर निवासी किसान ने उन्नत प्रजाति की अरहर फसल की बंपर उपज हासिल की है, जिसके बाद उससे बीज लेने वालों की भीड़ बढ़ गई है.

मसूर की खेती

उकठा रोग से मसूर की फसल को बचाना है तो इन क‍िस्मों की करें बुवाई, उर्वरकों का करें संतुल‍ित इस्तेमाल

Jun 07, 2024

कृष‍ि वैज्ञान‍िकों ने इसके ल‍िए कुछ ऐसे उपाय सुझाए हैं क‍ि उस पर अमल करके क‍िसान मसूर की फसल को उकठा रोग से बचा सकते हैं. वैज्ञान‍िकों का कहना है क‍ि ग्रीष्म ऋतु में मिट्टी पलटने वाले हल से गहरी जुताई करें. ऐसा करने से भूमि में उपस्थित रोगजनक धूप के कारण नष्ट हो जाते हैं, जिससे नई फसल प्राथमिक संक्रमण से बच जाती है.

बासमती धान की खेती

निर्यात के लिए बासमती उगा रहे हैं तो इन खास बातों का रखें ध्यान, नर्सरी से पहले जरूर करें ये काम

Jun 07, 2024

अगर आप निर्यात के लिए बासमती धान का उत्पादन कर रहे हैं, तो बेहतर गुणवत्ता वाले बासमती धान के बीज का चयन से लेकर धान की कटाई तक बेहतर मानकों और खेती की उचित प्रक्रियाओं का पालन करें. इससे आप अच्छी गुणवत्ता और मुनाफेदायक बासमती धान का उत्पादन कर सकते हैं और निर्यात के लिए तैयार हो सकते हैं. इससे ग्लोबल मार्केट में आपकी बासमती को बेहतर दाम मिल सकते हैं.

राजमा की खेती

खरीफ में ऐसे करें राजमा की खेती, खाद और सिंचाई का जान लें हिसाब

Jun 07, 2024

इसकी बढ़ी हुई मांग को देखते हुए अब देश के मैदानी इलाकों में भी राजमा की खेती होने लगी है. ऐसे में किसानों के लिए इसकी खेती फायदेमंद साबित हो रही है.