scorecardresearch
आप खुद से करें अपनी फसलों का बीमा, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए ये कागजात हैं जरूरी

आप खुद से करें अपनी फसलों का बीमा, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए ये कागजात हैं जरूरी

ऑनलाइन फसल बीमा कराने से पहले हमे यह जानना जरूरी है कि इसके किए कौन-कौन से कागजात होने चाहिए. फसल बीमा कराने के लिए आपके पास आधार कार्ड, जमीन संबंधित कागजात, अगर बटाई में खेती करते हैं तो बटाई के कागज, बैंक का पासबुक और फोन नंबर होना जरूरी है.

advertisement

देश में किसानों को फसल नुकसान से राहत दिलाने के लिए प्रधानमंत्री फसस बीमा योजना चलाई जाती है. प्राकृतिक आपदा और खराब मौसम के चलते अगर किसी किसान की फसल खराब हो जाती है तो किसान इस योजना के तहत फसल नुकसान का मुआवजा ले सकते हैं. पर इसके लिए पहले किसानों को फसल बीमा कराना होता है. कई किसान ऐसे भी हैं जिन्हें यह नहीं पता होता है कि वो फसल बीमा कैसे करा सकते हैं और इसका लाभ कैसे ले सकते हैं. तो इस खबर में आपको हम बताएंगे कि किस प्रकार आप खुद से ऑनलाइन आकर फसल बीमा के लिए आवेदन कर सकते हैं. यह बेहद ही आसान तरीका होता है. इस तरीके से किसान फसल बीमा कराकर उसका लाभ ले सकते हैं. 

ऑनलाइन फसल बीमा कराने से पहले हमें यह जानना जरूरी है कि इसके किए कौन-कौन से कागजात होने चाहिए. फसल बीमा कराने के लिए आपके पास आधार कार्ड, जमीन संबंधित कागजात, अगर बटाई में खेती करते हैं तो बटाई के कागज, बैंक का पासबुक और फोन नंबर होना जरूरी है. इसे किसान अपने मोबाइल या कंप्यूटर से कर सकते हैं. सबसे पहले किसान प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की अधिकारिक वेबसाइट https://pmfby.gov.in/ पर जाएं. इसके बाद होम पेज में दिख रहे फार्मर कॉर्नर (Farmers corner) पर क्लिक करें. 

ये भी पढ़ेंः यहां मिल रही ड्रोन उड़ाने की मुफ्त ट्रेनिंग, 19 फरवरी तक कर सकते हैं आवेदन

नए किसान इस विकल्प पर क्लिक करें

इसके बाद आपके स्क्रिन पर एक पेज खुल जाएगा. इसमें दो विकल्प दिखाई देंगे. इसमें लॉगिन फॉर फार्मर (Login For Farmer) और गेस्ट फार्मर (Guest Farmer) का विकल्प दिखाई देगा. अगर आप पहली बार आवेदन कर रहे हैं तो गेस्ट फार्मर वाले विकल्प पर क्लिक करें. गेस्ट फार्मर पर क्लिक करने पर आपके स्क्रिन पर आवेदन भरने के लिए एक फॉर्म खुल जाएगा. इसके बाद उस फार्म में अपना पूरा नाम भरें. फिर बैंक पासबुक में जो नाम है वह भरें. इसके बाद आप जिसके बारे में बताने वाले उससे अपना संबंध के भरें, जैसे पिता, माता, या और जो भी रिश्ता है तो भर सकते हैं. 

आवेदन में भरें अपनी पूरी जानकारी

इसके बाद अपना मोबाइल नंबर और उम्र भरें. इसके बाद जाति और वर्ग की जानकारी इस फॉर्म में भरें. इसके बाद इसमें अपना लिंग भरें और फिर अपनी किसानी का प्रकार चुनें. किसान यहां इस बात का ध्यान रखें कि जो दो हेक्टेयर से कम जमीन पर खेती करते हैं वो छोटे किसान (small Farmer) वाली कैटेगरी चुनें. जबकि छह हेक्टेयर से अधिक जमीन वाले अदर (Other) विकल्प का चुनाव करेंगे. इसके बाद किसान वर्ग को चुनें, इसमें बताना होगा कि आप खेत के मालिक हैं, बटाईदार हैं या किराए पर खेती करते हैं. इसके बाद अपने घर का पता और राज्य, जिला प्रखंड और गांव की जानकारी भरें. 

आधार कार्ड नंबर है जरूरी

इसके बाद यूआईडी को चुनने के बाद आधार कार्ड नंबर डालें. फिर बैंक खाते की जानकारी भरें. अगर आपको अपने बैंक का आईएफएससी कोड पता है तो यस पर क्लिक करें. अगर नहीं पता है तो नो पर क्लिक करें और राज्य जिला, बैंक का नाम, बैंक की शाखा, इसके बाद सेविंग अकाउंट नंबर दो बार भरें. इतनी जानकारी भरने के बाद कैप्चा भरने का विकल्प आएगा. इसे भरने के बाद क्रिएट युजर के विकल्प पर क्लिक करें. क्लिक करने के बाद आपके स्क्रिन पर बैंक डिटेल की जानकारी साथ ही कंन्फर्म और आगे बढ़ने का विकल्प आएगा. 

ये भी पढ़ेंः Bio capsule: कैप्सूल खाकर पौधे रहेंगे स्वस्थ, फसल से मिलेगी 30 फीसदी अधिक पैदावार

मोबाईल नंबर से करें लॉगिन

इसके अलावा जिन किसानों ने पिछले रबी या खरीफ सीजन के लिए फसल बीमा को लेकर आवेदन कर लिया है वो ल़ॉगिन फॉर फार्मर (Login For Farmer) वाले विक्लप पर क्लिक करें. इसके बाद अपना रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर डालें. इसके बाद कैप्चा को भरें. फिर रिक्वेस्ट फॉर ओटीपी करेंगे. इसके बाद ओटीपी आएगा. इसे भरने के बाद प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का डैशबोर्ड खुल जाएगा. इस पेज में आपकों अपनी बेसिक जानकारी दिखाई देगी. फिर यहां पर आपको अप्लाई पर इंश्योरेंस पर क्लिक करके आप जानकारी भर सकते हैं और बीमा की सुविधा हासिल कर सकते हैं. इसके अलावा अगर परेशानी होती है तो हेल्पलाइन नंबर 14447 पर फोन करने सहायता हासिल कर सकते हैं.